Apr 3, 2021
169 Views
0 0

नए वित्तीय वर्ष के लिए अच्छी खबर ! सस्ते होम लोन अब यहा से मिलेंगे

Written by

नया वित्तीय वर्ष उन लोगों के लिए बहुत अच्छी खबर लेकर आया है, जिन्होंने नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस (एनबीएफसी) या माइक्रो फाइनेंस इंस्टीट्यूशंस (एमएफआई) से कर्ज लिया है। ऐसे ग्राहकों को 2021-22 की पहली तिमाही से कम ब्याज देना होगा। यह नए ग्राहकों के साथ-साथ पुराने ग्राहकों को भी लाभान्वित करेगा जिन्होंने फ्लोटिंग दरों पर ऋण लिया है, जैसे होम लोन।

भारतीय रिजर्व बैंक ने एक नई औसत आधार दर की घोषणा की है। यह देश के 5 सबसे बड़े वाणिज्यिक बैंकों की औसत आधार दर है। 31 मार्च, 2021 को समाप्त तिमाही के लिए इन बैंकों की औसत आधार दर में 0.15 प्रतिशत की गिरावट आई है। पहले यह दर 7.81 फीसदी थी। पिछले दो वर्षों में औसत आधार दर लगभग 1.40 प्रतिशत तक गिर गई है। जो 30 जून 2019 को 9.21 प्रतिशत था।

रिज़र्व बैंक प्रत्येक तिमाही के अंत में ये आंकड़े जारी करता है। जो एनबीएफसी और एमएफआई के लिए एक बेंचमार्क दर के रूप में कार्य करता है। ब्याज दरें आम तौर पर एनबीएफसी और एमएफआई के लिए अधिक होती हैं। जिसके कारण रिजर्व बैंक ने यह विशेष व्यवस्था की है। RBI 5 बड़े वाणिज्यिक बैंकों की औसत आधार दर की घोषणा करता है, जो NBFC और MFI के लिए बेंचमार्क दर है।

VR Sunil Gohil

Article Tags:
Article Categories:
Banking and Finance · Economic

Leave a Reply

%d bloggers like this: