Apr 23, 2021
112 Views
0 0

भारत में 6 महीने में 50 लाख से अधिक छोटे और मध्‍यम कारोबारों को डिजिटाइज किया गया

Written by
  • More than 5 lakh SMBs digitized in Karnataka, 7 lakhs in Maharashtra, 6 lakh in Gujarat, 5 lakh in Delhi and 4 lakh in Rajasthan
  • myBillBook बेंगलुरु स्थित टेक्नालॉजी कंपनी फ़्लोबिज़ का प्रमुख उत्‍पाद है, जिसका लक्ष्य देश भर में एसएमबी की वृद्धि को गति देना है।

बेंगलुरु स्थित फ़्लोबिज़, भारत की सबसे तेजी से बढ़ रही एसएमबी टेक्नालॉजी कंपनी, ने myBillBook पेश किया है। यह छोटे और मध्यम कारोबारों के लिए इस्तेमाल में आसान एक बिलिंग और अकाउंटिंग ऐप है। यह मोबाइल और डेस्कटॉप दोनों पर उपलब्ध है। कारोबार मालिकों को myBillBook बेहद सरल साइन-अप प्रक्रिया के साथ इस्तेमाल में आसान और सुरक्षित अनुभव मुहैया कराता है। इससे कुछ ही मिनट में उनके कारोबारी परिचालन का डिजिटाइजेशन सक्षम होता है।

myBillBook मोबाइल फोन पर बिलिंग और अकाउंटिंग का एक संपूर्ण समाधान पेश करता है। इस समाधान से कारोबार अपने पूरे कारोबारी परिचालन को डिजिटाइज कर सकते हैं।  इस समय यह अंग्रेजी, हिन्दी, गुजराती, और तमिल भाषाओं में उपलब्ध है ।

myBillBook GST और गैर-GST दोनों तरह के कारोबारों को बिल बनाने, खरीद और खर्च रिकार्ड करने, स्टॉक मेंटेन करने और देय / प्राप्य का प्रबंधन करने में सहायता करता है। यह सब सीधे मोबाइल फोन या कंप्यूटर से किया जा सकता है। सर्वोच्च रेटिंग वाला यह कारोबारी ऐप्प महत्वपूर्ण कारोबारी रिपोर्ट भी तैयार करता है। इनमें लाभ और हानि विवरण, सेल्स समरी, पार्टी लेजर रिपोर्ट, GSTR रिपोर्ट आदि शामिल हैं जो कारोबार मालिकों को आते-जाते भी प्रभावी निर्णय लेने में सहायता करते हैं। myBillBook उन्‍नत सिक्‍योरिटी सिस्‍टम के साथ वास्तविक समय में मोबाइल और डेस्‍कटॉप के बीच डाटा ट्रांसफर को सपोर्ट करता है। ऐप्प मल्‍टी-यूजर फंक्‍शनैलिटी की पेशकश करता है ताकि व्‍यावसाय भागीदारों, अकाउंटेंट्स और संगठन के कर्मचारियों को आसानी से इस्‍तेमाल करने की मंजूरी दी जा सके।

myBillBook ने बीते छह महीने में राज्य में 50 लाख  से ज्यादा कारोबारों को डिजिटल होने में सहायता की है। इस ऐप को कारोबारी के नजरिए से बहुत बारीकी से तैयार किया गया है। इसका इस्तेमाल इतना आसान है कि कारोबारियों को इसका उपयोग शुरू करने के लिए पहले से अकाउंटिंग की जानकारी होने की कोई जरूरत नहीं है। उपयोगकर्ता की सुविधा का ख्याल रखते हुए यह ऐप व्हाट्सऐप्प से सीधे जुड़ा है। इससे कारोबारियों के लिए अपने खरीदारों अथवा आपूर्तिकर्ताओं को इनवॉयस, पर्चेज ऑर्डर साझा करना, पेमेंट लिंक्‍स के साथ पेमेंट रिमाइंडर भेजना आसान होता है।

myBillBook की पेशकश पर टिप्पणी करते हुए फ़्लोबिज़ के संस्थापक और सीईओ श्री राहुल राज ने कहा, “एसएमबी हमारी बढ़ती अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं। कोविड-19 महामारी के बाद यह पहले के मुकाबले बिल्कुल स्पष्ट है कि हमें घरेलू उत्पादन और निर्यात बढ़ाना चाहिए। ऐसा करने का एकमात्र तरीका यह है कि इसमें टेक्नालॉजी की सहायता ली जाए। फ़्लोबिज़ में हम लोगों ने myBillBook का निर्माण एक अकेले लक्ष्य के साथ किया है  यह है डिजिटाइजेशन के जरिए एसएमबी के विकास को गति देना। हमारा दृढ़ विश्वास है आत्मनिर्भर भारत बनाने के हमारे प्रधानमंत्री के मिशन को हासिल करने का यह एकमात्र रास्ता है।”

Article Tags:
·
Article Categories:
Business · Economic

Leave a Reply

%d bloggers like this: