Jan 18, 2021
190 Views
0 0

अर्नब गोस्वामी के व्हाट्सएप चैट से जेटली की मौत का पता चलता है

Written by

रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी एक बार फिर विवाद का केंद्र बन गए हैं। हाल ही में लीक हुए अर्नब के व्हाट्सएप चेट में एक के बाद एक सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। एक व्हाट्सएप चैट में विवरण के अनुसार, अर्नब गोस्वामी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की मृत्यु का जश्न मनाया।

अर्नब गोस्वामी के इस कदम को कई हस्तियों और निचले स्तर की पत्रकारिता के रूप में देखा गया। उल्लेखनीय है कि अर्नब गोस्वामी पर रिपब्लिक इंडिया द्वारा टीआरपी खेलने के लिए गंभीर आरोप लगाए गए हैं।

रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी के साथ एक व्हाट्सएप चैट से पता चलता है कि कैसे उन्होंने चैनल की टीआरपी को बढ़ाने के लिए पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन को भी नहीं छोड़ा। जेटली के निधन को रिपब्लिक इंडिया हिंदी ने एक बड़ी जीत के रूप में मनाया। ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अर्नब गोस्वामी और पार्थो दासगुप्ता को एक व्हाट्सएप चैट में उजागर किया गया है। बार्क के मुख्य कार्यकारी पार्थो दासगुप्ता के बीच एक अंग्रेजी अखबार की बातचीत सामने आई है।

दासगुप्ता और गोस्वामी के बीच की बातचीत का खुलासा मुंबई पुलिस ने किया है। तब से, गणतंत्र भारत के प्रधान संपादक के बारे में सवाल उठाए गए हैं। उन पर गोस्वामी के चैट सामने आने के बाद चैनल की टीआरपी को फायदा पहुंचाने के लिए पत्रकारिता की नैतिकता को कमतर करने का भी आरोप लगाया गया है।

दासगुप्ता को मुंबई पुलिस ने 24 दिसंबर को गिरफ्तार किया था। रिपब्लिक टीवी के अर्नब गोस्वामी के साथ लगभग एक-हज़ार पेज की व्हाट्सएप चैट पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। मुंबई क्राइम ब्रांच के मुताबिक, सबूत के तौर पर आने वाले दिनों में ऐसी हजारों चैट को कोर्ट में पेश किया जाएगा। इस प्रकार अर्नब गोस्वामी की मुसीबतें आने वाले समय में बढ़ सकती हैं।

Article Tags:
Article Categories:
Crime · Social

Leave a Reply

%d bloggers like this: