Jun 24, 2022
17 Views
0 0

एलडी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के 75वें स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित ‘समर्पण’ समारोह में मुख्यमंत्री की प्रेरक उपस्थिति

Written by

मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल ने एलडी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के 9वें स्थापना दिवस के अवसर पर कहा कि आज जहां देश आजादी के 75 वर्ष के अवसर पर अमृत महोत्सव मना रहा है, वहीं एलडी कॉलेज भी अपनी स्थापना के 75 वर्ष मना रहा है. देश के लिए गौरव की बात है।

 

गुजरात का सबसे पुराना एलडी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग अपनी 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर अपनी हीरक जयंती मना रहा है। एलडीसीई स्थापना दिवस समारोह ‘समर्पण’ में मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र पटेल विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे।शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वाघन और मंत्री श्री कुबेरभाई डिंडोर भी उपस्थित थे।

 

मुख्यमंत्री ने एलडी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग की स्थापना के 3 वर्ष पूरे होने पर एलडी कॉलेज परिवार को बधाई दी. उन्होंने कहा, एलडी कॉलेज का अब तक का ग्राफ हमें गौरवान्वित करता है।

 

इस समारोह में मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल ने भी छात्रों के साथ हल्के-फुल्के अंदाज में अपने कॉलेज के दिनों की यादें ताजा कीं.

इस अवसर पर श्री भूपेंद्र पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र भाई मोदी के मार्गदर्शन में गुजरात ने शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है और गुजरात में शिक्षा की नींव भी बहुत मजबूत हुई है।

 

श्री नरेंद्रभाई मोदी ने शिक्षा के क्षेत्र में उज्ज्वल कैरियर बनाने के लिए युवाओं के लिए एक स्टार्ट-अप योजना शुरू की है। श्री नरेन्द्रभाई ने इस नेक इरादे से इस योजना की शुरुआत की है कि धन के अभाव में युवाओं की शक्ति का ह्रास न हो। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भी युवाओं को प्रोत्साहित करने वाली योजनाओं के तहत हर तरह की मदद देने के लिए कटिबद्ध है.

 

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने स्टार्ट-अप योजना का अधिक से अधिक लाभ उठाकर समाज की मदद करने का भी आह्वान किया.

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब श्री नरेंद्र भाई ने आत्मनिर्भर भारत बनाने का संकल्प लिया है तो आइए हम आत्मनिर्भर गुजरात के माध्यम से आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में आगे बढ़ें और विकास की इस यात्रा में शामिल हों।

 

इस अवसर पर शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वाघन ने कहा कि आज इतिहास में एक नई सीढ़ी है। जहां देश आजादी के 7 साल मना रहा है, वहीं एलडी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के 75 साल गुजरात और देश में एक उपलब्धि है।

 

उन्होंने कहा कि एलडी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग आज शिक्षा के क्षेत्र में बहुत अच्छा काम कर रहा है। ‘सबसे अच्छा क्या किया जा सकता है’ इस कॉलेज के विचारों में से एक है और यही वह विचार है जो इस कॉलेज को दिन-ब-दिन आगे बढ़ा रहा है।

 

उन्होंने कहा कि आज एलडी इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ना गर्व की बात है।

 

शिक्षा मंत्री ने विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि जो ज्ञान आप अर्जित कर रहे हैं वह समाज को आकार देने में उपयोगी हो, यह जिम्मेदारी आपको निभानी है। शिक्षा मंत्री ने छात्रों से एलडी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से अधिक से अधिक स्टार्ट-अप तैयार करने का भी आह्वान किया।

 

इस अवसर पर शिक्षा मंत्री श्री जीतूभाई वाघन ने एलडी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर वर्ष 207-2 से रोबोट ऑटोमेशन और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मशीन लर्निंग के दो नए संकाय देने की भी घोषणा की।

 

इतना ही नहीं, उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल के नेतृत्व में शिक्षा विभाग ने रु. 10 करोड़ रुपये के अनुदान को पुनर्जीवित कर महाविद्यालय को देने का निर्णय लिया गया है।

 

इस अवसर पर श्री संजय लालभाई ने कहा कि श्री कस्तूरभाई लालभाई और श्री साराभाई परिवार ने अहमदाबाद में कई शिक्षण संस्थान शुरू करके अहमदाबाद को विश्व मानचित्र पर रखा है।

 

उन्होंने आगे कहा कि आज हमारे देश के सीईओ विश्व प्रसिद्ध कंपनियों में से हैं जो हमारे लिए गर्व की बात है और यह सब अच्छी शिक्षा के कारण ही संभव हो पाया है. एलडी कॉलेज को दुनिया के अग्रणी कॉलेजों में से एक बनाने की जिम्मेदारी हम सभी की है।”

 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा ‘एलडीसीई कनेक्ट’ ऐप का भी शुभारंभ किया गया।

 

इस ‘समर्पण’ समारोह में अरविंद मिल के एमडी संजय लालभाई, विधायक विवेक पटेल, डॉ. राजुल गज्जर, निदेशक तकनीकी शिक्षा श्री जी.टी. पांड्या सहित अन्य संकाय सदस्य, पद्मश्री एसएस राठौर, पूर्व छात्र एवं वर्तमान छात्र उपस्थित थे।

Article Tags:
· ·
Article Categories:
Politics · Technology

Leave a Reply