Dec 29, 2020
251 Views
0 0

कोरोना महामारी के बीच, इन 5 शेयरों ने निवेशकों को समृद्ध बनाया

Written by

कोरोना महामारी के कारण इस साल शेयर बाजार में काफी उतार-चढ़ाव देखा गया है। दूसरी ओर, बीएसई सूचकांक मार्च में कम था, लेकिन साल के अंत में फिर से उच्च स्तर पर पहुंच गया। इस बीच, कुछ शेयरों में निवेशकों ने 600 प्रतिशत तक वापसी की। अडानी समूह के अडानी एनर्जी के शेयर शीर्ष शेयरों में से हैं। इसलिए हम आपको दिखाएंगे कि शेयर बाजार में 5 शेयरों ने निवेशकों के लिए कितनी कमाई की।

अदानी ग्रीन – 24 दिसंबर, 2019 को NSE पर अडानी एनर्जी की कीमत 148.90 रुपये थी, जो 24 दिसंबर, 2020 को एक साल में 1036.20 रुपये हो गई। इसका मतलब है कि निवेशकों को एक साल के भीतर 595 प्रतिशत रिटर्न मिला। कंपनी का लक्ष्य 2025 तक दुनिया की सबसे बड़ी नवीकरणीय उपयोग कंपनी बनना है। जून में कंपनी ने कहा था कि वह दुनिया के सबसे बड़े सोलर आयोड के लिए 450 अरब रुपये का निवेश करेगी। अडानी ग्रीन का टॉप -100 शेयरों में सबसे अच्छा प्रदर्शन है। कंपनी का मार्केट कैप 1.61 लाख करोड़ रुपये है। हालांकि, कंपनी के शेयरहोल्डिंग पैटर्न से आपको पता चल जाएगा कि किसने सबसे ज्यादा कमाई की है। प्रमोटरों में 74.92 प्रतिशत, एफआईआई (विदेशी संस्थागत निवेशक) 22.43 प्रतिशत और सार्वजनिक निवेशक 2.39 प्रतिशत हैं।

डेविस लैब- फार्मा के शेयरों को कोरोना महामारी से फायदा हुआ। डेविस लैब ने निवेशकों को 106 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। कंपनी का मार्केट कैप भी 1 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच गया है। डेविस लैब एक और फार्मा कंपनी है जिसकी 1 लाख करोड़ रुपये की मार्केट कैप है। डिवीजन लैब के अलावा, सन फार्मा का मार्केट कैप 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक है। एक साल में निफ्टी का फार्मा इंडेक्स 59.89 फीसदी बढ़ा है।

अरबिंदो फार्मा – फार्मा क्षेत्र की कंपनी अरबिंदो फार्मा निवेशकों को साल दर साल 95 फीसदी रिटर्न देती है। एनएसई पर स्टॉक 909 रुपये पर बंद हुआ। भारत में संयुक्त राष्ट्र बाल कोष के लिए कोरोना वैक्सीन विकसित करने के लिए अरबिंदो फार्मा और अमेरिका स्थित कोवाक्स ने एक लाइसेंस समझौते में प्रवेश किया है।

एलएंडटी इन्फोटेक-फार्मा के अलावा, आईटी शेयरों ने भी निवेशकों द्वारा छोड़े गए शून्य को भरने में मदद की। एलएंडटी इन्फोटेक ने निवेशकों को 104 फीसदी रिटर्न दिया। एनएसई पर स्टॉक 3625.60 पर बंद हुआ। एलएंडटी प्रबंधन के अनुसार, क्लाउड बिजनेस अभी 200 मिलियन से बढ़कर 1 बिलियन तक पहुंच सकता है। कंपनी ने हाल ही में मुबाडाला समूह के साथ पश्चिम एशिया में 5 करोड़ 205 लाख की बड़ी डील हासिल की।

टाटा कंज्यूमर – टाटा कंज्यूमर शेयरों ने साल-दर-साल 90 फीसदी और निवेशकों के लिए 14.07 फीसदी महीने दर महीने रिटर्न भरा है। स्टॉक आखिरकार 616.10 पर बंद हुआ। प्रवर्तकों में 34.7 प्रतिशत, एफआईआई 21.65 प्रतिशत, डीआईआई 17.69 प्रतिशत और जनता 25.95 प्रतिशत है।

Article Tags:
Article Categories:
Economic · National

Leave a Reply

%d bloggers like this: