Dec 1, 2020
210 Views
0 0

चंद्रमा और मंगल ग्रह के बाद इस ग्रह की भूमि पर इसरो की नज़र, सबसे गर्म ग्रह पर जीवन की खोज करेगा

Written by

भारत लगातार अंतरिक्ष क्षेत्र में अपने प्रयासों को तेज करने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) अब चंद्रयान और मंगलयान के बाद शुक्र के लिए एक मिशन तैयार कर रहा है। इसरो ने हमारे सौर मंडल के सबसे गर्म ग्रह का अध्ययन करने के लिए ‘वीनस -1’ मिशन का प्रस्ताव दिया है। आपको बता दें कि शुक्र पृथ्वी का सबसे निकटतम ग्रह है। जिसकी वायुमण्डल यहाँ की गणना के अनुसार बहुत सघन है। इसकी सतह का तापमान 470 डिग्री सेल्सियस तक पहुँच जाता है। इसलिए शुक्र पर दबाव पृथ्वी की गणना से 90 गुना अधिक है।

ये हालात इंसानों और अंतरिक्ष यान के लिए बहुत ही दुर्गम हैं। हालांकि, एक हालिया अध्ययन में ग्रह पर जीवन के संकेत मिले। ध्यान दें कि जब हम सतह पर बहुत गर्म शुक्र पर बढ़ते हैं तो तापमान और दबाव सामान्य हो जाता है। वैज्ञानिकों के अनुसार, शुक्र की सतह से 50 किलोमीटर ऊपर की गर्मी और दबाव पृथ्वी के समान है। इसरो का प्रस्ताव ग्रह की परिक्रमा और उसके वातावरण का अध्ययन करना है। रिपोर्ट के अनुसार, इस मिशन के लिए बनाया जाने वाला अंतरिक्ष यान इसरो के सबसे उन्नत जीएसएलवी मार्क -3 के बीच सौर विकिरण और सौर पवन के बीच लॉन्च किया जाएगा। इसमें भारत के 16 पेलोड और दूसरे देशों के 7 पेलोड होंगे जो शुक्र की परिक्रमा करेंगे और 4 साल तक इसका अध्ययन करेंगे।

Article Tags:
Article Categories:
Tech · International · National

Leave a Reply

%d bloggers like this: