Oct 10, 2020
234 Views
0 0

भारतीय डाक द्वारा 9 से 15 अक्टूबर तक राष्ट्रीय डाक सप्ताह का आयोजन

Written by

भारतीय डाक ने राष्ट्रीय डाक सप्ताह की शुरुआत विश्व डाक दिवस के साथ की है, जिसे प्रति वर्ष 9 अक्टूबर को मनाया जाता है जो कि 1874 में बर्न में यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन (यूपीयू) की स्थापना की वर्षगांठ है। विश्व डाक दिवस का उद्देश्य लोगों और व्यवसायों के रोजमर्रा के जीवन में डाक क्षेत्र की भूमिका और देशों के सामाजिक व आर्थिक विकास में इसके योगदान के बारे में जागरूकता पैदा करना है। एक कदम आगे बढ़ाते हुए डाक विभाग राष्ट्रीय स्तर पर जनता और मीडिया के बीच अपनी भूमिका और गतिविधियों के बारे में व्यापक जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय डाक सप्ताह के अंतर्गत कार्यक्रम व गतिविधियों का आयोजन करता है।

इस वर्ष के लिए विश्व डाक दिवस एवं राष्ट्रीय डाक सप्ताह समारोह के कार्यक्रम निम्नलिखित है:-

दिनांकदिवसविवरण
9 अक्टूबरशुक्रवारविश्व डाक दिवस
10 अक्टूबरशनिवारबैंकिंग दिवस
12 अक्टूबरसोमवारपीएलआई दिवस
13 अक्टूबरमंगलवारडाक टिकट संग्रह दिवस
14 अक्टूबरबुधवारव्यवसाय विकास दिवस
15 अक्टूबरबृहस्पतिवारडाक दिवस

इस संबंध में कई गतिविधियों की योजना बनाई/प्रस्तावित की गई है:

  1. सर्किल स्तर पर गतिविधियां:
  2. पुराने होर्डिंग/पुराने नोटिसों को हटाने और पुराने अभिलेखों को हटाने आदि के साथ-साथ सभी डाकघरों, डाक कार्यालयों और प्रशासनिक कार्यालयों की साज-सज्जा और सफाई।

ii.राष्ट्रीय डाक सप्ताह के लिए सर्किल स्तर पर विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा।

iii. व्यवसाय विकास दिवस पर वर्तमान और संभावित कॉर्पोरेट ग्राहकों से संपर्क करना।

  1. डाक टिकट संग्रह, बचत खाते खोलने, आईपीपीबी खाते, आधार सीडिंग और पीएलआई/आरपीएलआई प्रस्ताव प्राप्त करने के लिए अलग-अलग दिन वर्चुअल कैंप/वर्कशॉप के आयोजन के लिए योजना व तैयारी की जाएगी।
  2. सर्किल प्रमुख अपने प्रीमियम ग्राहकों को पत्र लिखकर विभाग को व्यवसाय देने के लिए धन्यवाद देंगे।

vi.डाकघरों की नई सेवाएं और नागरिक केंद्रित सेवाओं की उपलब्धता के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए ऑनलाइन जागरूकता अभियान का आयोजन किया जा सकता है जैसे पीओपीएसके, आधार नामांकन और अपडेशन सुविधा, सीएससी सुविधाएं इंडिया पोस्ट पीआरएस सेंटर, गंगाजल की उपलब्धता आदि।

राष्ट्रीय डाक सप्ताह के दौरान दिवस के अनुसार गतिविधियां:

विश्व डाक दिवस: डाकघर परिसर के भीतर पोस्ट फोरम की बैठक का आयोजन, मंडलों की वेबसाइटों पर विश्व डाक दिवस और राष्ट्रीय डाक सप्ताह समारोह से संबंधित समाचारों को पोस्ट करना; सॉफ्ट स्किल्स, पब्लिक इंटरैक्शन और सामान्य शिष्टाचार पर स्टाफ के लिए कार्यशालाएं। इस दिन प्रिंट मीडिया में कोई सर्किल विज्ञापन जारी नहीं करेगा।

बैंकिंग दिवस: बचत बैंक शिविरों/मेलों का आयोजन किया जाए ताकि बैंकिंग दिवस के अवसर पर अधिकतम संख्या में पीओएसबी/आईपीपीबी खाते खोले जा सकें और आम जनता को विभाग के सेविंग बैंक उत्पादों के बारे में जागरूक किया जा सके। इसके अलावा आईपीपीबी शाखाओं और पहुंच बिंदुओं को लागू करने के साथ ही एईपीएसएस और सुविधाओं के साथ-साथ लाभ जैसी नई सुविधाओं के बारे में जनता को जागरूक किया जाएगा ताकि अधिकतम संख्या में खाते खोले जा सकें।

डाक जीवन बीमा दिवस: पीएलआई क्लेम सेटलमेंट को भी प्राथमिकता दी जाए ताकि पीएलआई दिवस तक लंबित दावों के निपटारों को कम किया जा सके।

डाक टिकट संग्रह दिवस: टिकट संग्रह विभाग राष्ट्रीय डाक सप्ताह के दौरान सभी दिनों पर राष्ट्रीय डाक टिकट संग्रहालय में कार्यक्रम आयोजित करने की योजना और आयोजन कर रहा है। डाक टिकट संग्रह विभाग डाक टिकट संग्रह सम्बन्धी उत्पाद (टिकट विषयों के आधार पर टाई, स्कार्फ, बैग, मग आदि) शुरू करने पर भी विचार कर रहा है। सर्किल नए पीडी खाते खोल रहे हैं और यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि डाक टिकट संग्रह दिवस पर मौजूदा पीडी खातों की सेवा लंबित नहीं है|

व्यवसाय विकास दिवस: व्यवसाय विकास दिवस पर सर्किल वर्तमान और संभावित ग्राहकों के साथ बातचीत करेंगे।

डाक दिवस: कोविड-19 स्थिति को ध्यान में रखते हुए डाकियों की भूमिका पर प्रकाश डाला जायेगा। पीएमए का शत-प्रतिशत उपयोग करने का प्रयास किया जाएगा ताकि डिलीवरी की जानकारी उपलब्ध हो और ग्राहक को शिकायत करने का कोई अवसर न हो।

Article Tags:
·
Article Categories:
National · Social

Leave a Reply

%d bloggers like this: