Aug 6, 2022
5 Views
0 0

भारत की सबसे बड़ी मेड-इन-इंडिया बर्गर चेन, बर्गर सिंह

Written by

भारत की सबसे बड़ी मेड-इन-इंडिया बर्गर चेन, बर्गर सिंह ने नीजेन कैपिटल के नेतृत्व में रु 30 करोड़ की धनराशि जुटाई

कंपनी गुजरात में खोलेगी कुल 48 आउटलेट्स, जिसमें से 20 आउटलेट्स इसी वर्ष में खोले जाएंगे

 

फंडिंग के इस नए राउण्ड के साथ कंपनी का मूल्य रु 200 करोड़ तक पहुंच गया है

इस राशि का उपयोग फूड कोर्ट विस्तार के लिए किया जाएगा

बर्गर सिंह ने तेज़ी से विस्तार का लक्ष्य रखा है और वित्तीय वर्ष 23 तक अपने मौजूदा 80 स्टोर्स को 200 आउटलेट्स तक पहुचाने की योजना बनाई है

5 अगस्त, गुजरातः

भारत की सबसे बड़ी मेड-इन-इंडिया बर्गर चेन, बर्गर सिंह, ने नीजेन कैपिटल और अन्य निवेशकों लैट्स वेंचर्स, मुंबई एंजल्स, ओल्ड वर्ल्ड हॉस्पिटेलिटी (रोहित खट्टर) और जसलीन रॉयल (गायक, गीतलेखक और कम्पोज़र) के नेतृत्व में सीरीज़ ए फंडिंग में रु 30 करोड़ की धनराशि जुटाई है।

 

स राउण्ड में मौजूदा निवेशकों आर बी इन्वेस्टमेन्ट्स, रूकम कैपिटल, केसीटी फैमिली ऑफिस और वी.एम. सालगाओकर फैमिली ऑफिस (गोवा) ने भी हिस्सा लिया। वर्तमान में अर्थव्यवस्था में बड़े पैमाने पर ड्राय फंडिंग के बावजूद टिप्पिंग मि. पिंक प्रा. लिमिटेड (बर्गर सिंह की होल्डिंग कंपनी) ने 60 दिनों के अंदर इस राउण्ड को पूरा किया। कंपनी वित्तीय वर्ष 23 के दौरान अतिरिक्त 120 फूड कोर्ट आउटलेट्स लॉन्च करने के लिए अपनी विस्तार योजनाओं हेतु इस फंड का उपयोग करेगी।

कबीर जीत सिंह, सीईओ एवं संस्थापक, बर्गर सिंह ने कहा, ‘‘हम हमेशा से अपने निवेशकों के स्थायी विकास के लिए प्रयासरत रहे हैं। हमारे सशक्त बिज़नेस मॉडल के चलते दो विश्वस्तरीय अनिश्चितताओं- महामारी और मुद्रास्फीती- के बावजूद हमने निरंतर विकास किया है। इस राउण्ड के साथ एक बार फिर से हमारे मौजूदा एवं नए निवेशकों ने हमारे मंत्र को सपोर्ट किया है। क्यूएसआर की इस रेस में हम खरगोश के बजाए कछुए की तरह धीमी गति से किंतु निरंतर आगे बढ़ने के लिए तत्पर हैं।’’

 

कृवा कॉर्पोरेशन के उत्तम हुंबल जी गुजरात क्षेत्र में कंपनी के एक्सक्लुज़िव सेल्स एजेंट हैं। कंपनी ने आगामी वर्ष में इस क्षेत्र में 20 और कुल 48 आउटलेट्स खोलने की योजना बनाई है। वर्तमान में इसके 4 आउटलेट्स हैं, और 3 आउटलेट्स पर काम जारी है। इनमें से 3 आउटलेट पूरी तरह से वेज आउटलेट हैं, जिन्हें खासतौर पर वैजीटेरियन उपभोक्ताओं के लिए पेश किया गया है। ब्राण्ड की लोकप्रियता को देखते हुए उत्तम हुंबल जी ने गांधीधाम में पहला आउटलेट खोलने का फैसला लिया। आज उनके 4 आउटलेट्स चल रहे हैं और 3 जल्द आने वाले हैं। उनका मानना है कि बर्गर सिंह अपने बेहतरीन प्रोडक्ट्स के साथ एमएनसी को कड़ी टक्कर देता है। गांधीधाम आउटलेट्स ने 20-25 फीसदी म्ठप्ज्क्।, 20-25 फीसदी सालाना आरओआई दर्ज किया है।

बर्गर सिंह एकमात्र मेड-इन-इंडिया ब्राण्ड हैं, जो अन्तर्राष्ट्रीय ब्राण्ड्स के साथ प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम है। यह भारत की सबसे तेज़ी से विकसित होती और सबसे सफल बर्गर चेन्स में एक है। क्यूएसआर ब्राण्ड देश की कुछ ही कंपनियों में शामिल है जिसने महामारी के दौरान भी लगातार विकास दर्ज किया। कंपनी ने पिछले साल के दौरान 223 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की और 2020 के बाद से 50 आउटलेट्स लॉन्च कर चुकी है।

इस साझेदारी के बारे में बात करते हुए नील बहल, संस्थापक एवं सीईओ- नीजेन कैपिटल ने कहा, ‘‘कबीर और उनकी टीम ने बर्गर सिंह को ऐसे मुक़ाम तक पहुंचाया है जहां यह कुछ एमएनसी बर्गर चेन्स के समकक्ष आ गया है।’’

भारत का क्यूएसआर स्पेस अब उत्कृष्ट स्थिति में है, क्योंकि भारतीय कंज़्प्शन के रूझान तेज़ी से बदल रहे हैं। 360 मिलियन युवाओं और अर्थव्यवस्था में सुधार के साथ उद्योग जगत हमारे जैसे निवेशकों के लिए आकर्षक हो गया है, जो तेज़ी से विकसित होते, प्रत्याशित और मुनाफ़े वाले स्टार्ट-अप्स में निवेश करना चाहते हैं।’ उन्होंने कहा।

कंपनी ने 2014 में गुरूग्राम में पहले आउटलेट के साथ अपनी शुरूआत की थी और 8 सालों के भीतर बर्गर सिंह देश भर में बर्गर्स का पर्याय बन चुका है।

बर्गर सिंह भारत में मेड-इन-इंडिया बर्गर्स की सबसे बड़ी चेन है जिसकी पश्चिमी और उत्तर भारत में सशक्त मौजूदगी है। उनके दिल्ली-एनसीआर, लखनऊ, जयपुर, देहरादून, अहमदाबाद, झांसी, चण्डीगढ़, अमृतसर में 80 से अधिक आउटलेट्स हैं।

कबीर बर्गर सिंह को देश की सबसे बड़ी फूड फ्रैंचाइज़ बनाना चाहते हैं। बर्गर सिंह ऐसे फ्रैंचाइज़ मॉडल पर काम करता है, जो इसे केन्द्रीय स्तर पर असेट लाईट और मुनाफ़े से युक्त बनाते हैं। नई जुटाई गई राशि का उपयोग कंपनी के कारोबार को बढ़ाने तथा मौजूदा फ्रैंचाइज़ मालिकों को सहयोग प्रदान करने के लिए किया जाएगा।

 

 

 

 

Article Categories:
Business · Food and beverage

Leave a Reply