Jun 24, 2022
13 Views
0 0

मुख्यमंत्री श्री.

Written by

राज्य सरकार द्वारा 23 से 25 जून 2022 तक राज्य भर में स्कूल प्रवेश समारोह का शुभारंभ किया गया है। मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल ने बनासकांठा जिले के वडगाम तालुका के मेमदपुर प्राथमिक विद्यालय से राज्यव्यापी कन्या केलावानी महोत्सव और स्कूल प्रवेश समारोह का उद्घाटन किया।

 

मुख्यमंत्री ने मेमदपुर प्राइमरी स्कूल में पहली कक्षा के बच्चों को चॉकलेट दी, उनका मुंह नमकीन किया और उन्हें प्रवेश किट दी.

 

स्कूल के अपने दौरे के दौरान मुख्यमंत्री ने स्कूल प्रबंधन समिति के सदस्यों के साथ बातचीत की, गांव में शिक्षा की स्थिति की समीक्षा की, इसके सुधार के लिए मार्गदर्शन प्रदान किया और स्कूल परिसर में पेड़ लगाए.

 

मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल ने कहा कि गुजरात में देश के विकास के इंजन तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री नरेंद्रभाई मोदी ने राज्य के अंतिम व्यक्ति को मुख्यधारा में लाने के लिए सफल प्रयास किए हैं। हमारी सरकार इस गति को आगे बढ़ाने के लिए काम कर रही है।

 

प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र भाई मोदी ने शिक्षा, स्वास्थ्य और सुरक्षा जैसे मामलों पर विशेष जोर देकर सभी को एक साथ, सभी विकास, सभी विश्वास, सभी प्रयास के लक्ष्य मंत्र के साथ मजबूत किया है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि समाज में शिक्षा की नींव मजबूत हो तो व्यक्ति हर क्षेत्र में आगे बढ़ सकता है और शिक्षा के माध्यम से तकनीक का उपयोग कर सक्षम बन सकता है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2007 में जब श्री नरेन्द्र भाई मोदी ने गुजरात में स्कूली शिक्षा की स्थिति को बदलने और राज्य की प्रारंभिक शिक्षा में तेजी लाने के लिए इस स्कूल प्रवेश समारोह की शुरुआत की थी, तब से राज्य के स्कूलों में ड्रॉप आउट अनुपात में काफी कमी आई है। बच्चे।

 

प्रवेश समारोह गांव में उत्साह का माहौल बनाता है और ग्रामीणों को अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। हमारी सरकार शिक्षा के क्षेत्र में छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के सामने आने वाली चुनौतियों का समाधान करने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार ने चिकित्सा, इंजीनियरिंग जैसे कई क्षेत्रों में शिक्षा के लिए उत्कृष्ट प्रणालियाँ स्थापित की हैं। मुख्यमंत्री ने सभी उपस्थित लोगों से गांव के बच्चों की बेहतरी के लिए प्रयास करने का आह्वान किया।

 

सरकार ने शिक्षा के साथ-साथ स्वास्थ्य और सुरक्षा समेत कई क्षेत्रों में अहम काम किया है. प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र भाई मोदी ने कोरो महामारी के समय में अपने विजन से जरूरतमंदों को बेहतरीन इलाज, मुफ्त टीकाकरण और मुफ्त भोजन मुहैया कराकर देशवासियों को इस महामारी से उबारा है। गुजरात सरकार ने भी नागरिकों को स्वास्थ्य संबंधी योजनाओं के लाभ के लिए बजट में विशेष प्रावधान किए हैं। बनासकांठा कृषि और पशुपालन पर निर्भर है। राज्य सरकार ने पशुओं में विभिन्न रोगों की रोकथाम के लिए पशु स्वास्थ्य मेलों का आयोजन कर उपचार की व्यवस्था की है। नतीजतन, डेयरियों का दूध राजस्व 21 मीट्रिक टन से बढ़कर 12 मीट्रिक टन हो गया है। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि वर्तमान सरकार पारिवारिक भावना से नागरिकों की भलाई के लिए प्रतिबद्ध है।

 

बनासकांठा जिला प्रशासन द्वारा मेमदपुर गांव में स्कूल प्रवेश समारोह की पूर्व संध्या पर आयोजित “सेवासेतु” का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गुजरात सरकार विभिन्न योजनाओं का लाभ नागरिकों को घर पर पहुंचा रही है. सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है कि राज्य के सभी जिलों में प्रत्येक नागरिक को हर योजना का पूरा लाभ मिले।

 

इस अवसर पर उपस्थित शिक्षा राज्य मंत्री श्री कीर्तिसिंह वाघेला ने कहा कि 40 साल पहले स्कूलों में स्कूल छोड़ने का अनुपात बहुत अधिक था। लेकिन तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री नरेंद्रभाई मोदी द्वारा दूरदर्शिता से शुरू किए गए स्कूल प्रवेश समारोह के माध्यम से आज यह अनुपात न के बराबर है। मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्रभाई पटेल के मार्गदर्शन में गुजरात सरकार शिक्षा के क्षेत्र में आगे रहने के लिए नई शिक्षा नीति लागू कर आगे बढ़ने का प्रयास कर रही है. स्कूली जीवन से छात्रों में संस्कृत को विकसित करने के लिए भगवद गीता को कक्षा 8 से पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है। उन्होंने बनासकांठा के लोगों के लिए शुद्ध पेयजल कसरा-दंतीवाड़ा और डिंड्रोल-मुक्तेश्वर योजनाओं को मंजूरी देने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्रभाई पटेल को बधाई दी।

मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल ने विभिन्न शैक्षणिक उपलब्धि हासिल करने वाली गांव की बेटियों को शील्ड व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया. इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री हरिभाई चौधरी, संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री नंदजी ठाकोर, जिलाध्यक्ष श्री गुमानसिंह चौहान एवं नेता श्री दिलीपभाई वाघेला, सुरेशभाई शाह, हितेशभाई चौधरी, दहयाभाई पीलियातर, जिला कलेक्टर श्री आनंद पटेल, जिला अधीक्षक श्री अक्षय, जिला अधीक्षक श्री अक्षय संजयभाई परमार, वरिष्ठ अधिकारी, पदाधिकारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Article Tags:
· ·
Article Categories:
Education

Leave a Reply