May 2, 2022
47 Views
0 0

वडनगर में गुजरात स्थापना दिवस के तहत “गुजरात गौरव दिवस” ​​मनाया, शर्मिष्ठा झील में खुली तैराकी प्रतियोगिता का आयोजन

Written by

स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव और वडनगर विरासत श्रृंखला के तहत वडनगर के गौरवशाली इतिहास से परिचित कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन द्वारा विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं।तैराकी प्रतियोगिता का उद्देश्य युवाओं में तैराकी को बढ़ावा देना और पर्यटन को भी बढ़ावा देना है। वडनगर जैसे ऐतिहासिक स्थानों में प्रतियोगिता का आयोजन गुजरात पर्यटन, मेहसाणा जिला प्रशासन और इंडियन साइकिल क्लब मेहसाणा द्वारा किया गया था। प्रतियोगिता के आयोजन में भारतीय खेल प्राधिकरण भी शामिल था।प्रतियोगिता में कुल पांच लाख पुरस्कार दिए गए।12 से 9, 40 से 5 और 40 साल से ऊपर के कंटेस्टेंट की अलग कैटेगरी थी। जिला कलेक्टर उदित अग्रवाल ने कहा कि तंत्र और उसके सहयोगियों द्वारा प्रतियोगियों को आवास, भोजन, नाश्ता और तैराकी टोपी मुफ्त प्रदान की गईं।मुंबई, राजकोट, सूरत, वडोदरा, अहमदाबाद और अन्य जिलों के लगभग 50 प्रतियोगियों ने प्रतियोगिता में भाग लिया, जिला कलेक्टर उदित अग्रवाल ने कहा। उन्होंने कहा कि वडनगर जिले की एक समृद्ध और सौम्य विरासत है जो वडगनार की प्राचीन गरिमा को दर्शाती है और यह सुनिश्चित करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं कि यह विरासत नागरिकों तक पहुंचे। वडनगर के नागरिक वडनगर के शानदार शहर से परिचित हो गए हैं। प्रमुख सोमाभाई मोदी ने कहा कि सरकार पर्यटन स्थलों सहित वडनगर के विकास के लिए विभिन्न प्रयास कर रही है। वडनगर का रखरखाव हमारा कर्तव्य है। वडनगर को विश्व स्तर पर उभरने के लिए ठोस प्रयास की जरूरत है। वडनगर में कई विकास कार्य किए जा रहे हैं जिससे वडनगर के विकास को गति मिली है।राजकोट के एक तैराकी प्रतियोगी मैत्री ने कहा कि ऐतिहासिक शहर के साथ-साथ प्रधानमंत्री के जन्म स्थान में तैरना बहुत खुशी की बात है। देश के मंत्री वडनगर।प्रतियोगिता मेरे जीवन की सबसे यादगार प्रतियोगिता बन गई है। अहमदाबाद व वडनगर निवासी सुनील त्रिवेदी ने बताया कि शर्मिष्ठा झील पर बचपन में ही तैरना सीख लिया था।इस अवसर पर प्रतिभागियों ने तैराकी प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए प्रशासन का धन्यवाद किया। तैराकी प्रतियोगियों को पुरस्कृत किया गया और प्रोत्साहित किया गया। वडनगर में कई विकास कार्य किए जा रहे हैं जिससे वडनगर के विकास को गति मिली है।राजकोट के एक तैराकी प्रतियोगी मैत्री ने कहा कि ऐतिहासिक शहर के साथ-साथ प्रधानमंत्री के जन्म स्थान में तैरना बहुत खुशी की बात है। देश के मंत्री वडनगर।प्रतियोगिता मेरे जीवन की सबसे यादगार प्रतियोगिता बन गई है। अहमदाबाद व वडनगर निवासी सुनील त्रिवेदी ने बताया कि शर्मिष्ठा झील पर बचपन में ही तैरना सीख लिया था।इस अवसर पर प्रतिभागियों ने तैराकी प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए प्रशासन का धन्यवाद किया। तैराकी प्रतियोगियों को पुरस्कृत किया गया और प्रोत्साहित किया गया। वडनगर में कई विकास कार्य किए जा रहे हैं जिससे वडनगर के विकास को गति मिली है।राजकोट के एक तैराकी प्रतियोगी मैत्री ने कहा कि ऐतिहासिक शहर के साथ-साथ प्रधानमंत्री के जन्म स्थान में तैरना बहुत खुशी की बात है। देश के मंत्री वडनगर।प्रतियोगिता मेरे जीवन की सबसे यादगार प्रतियोगिता बन गई है। अहमदाबाद व वडनगर निवासी सुनील त्रिवेदी ने बताया कि शर्मिष्ठा झील पर बचपन में ही तैरना सीख लिया था।इस अवसर पर प्रतिभागियों ने तैराकी प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए प्रशासन का धन्यवाद किया। तैराकी प्रतियोगियों को पुरस्कृत किया गया और प्रोत्साहित किया गया।

Article Tags:
·
Article Categories:
Festivals

Leave a Reply