Dec 12, 2020
211 Views
0 0

15 दिसंबर, 2020 से शुरू होने वाली रेलवे भर्ती परीक्षा के आयोजन की तैयारी जोर-शोर से चल रही है

Written by

भारतीय रेल अपने 21 रेलवे भर्ती बोर्डों (आरआरबी) के माध्यम से तीन चरणों में मेगा भर्ती अभियान का आयोजन कर रहा है, जो 15 दिसंबर, 2020 से शुरू होगा। लगभग 1.4 लाख रिक्त पदों को भरने के लिए आयोजित किये जाने वाले इस भर्ती अभियान में 2.44 करोड़ से अधिक उम्मीदवार देश के विभिन्न शहरों में परीक्षा में शामिल होंगे। परीक्षा आयोजित करने की तैयारी जोरों पर है।

सीईएन 03/2019 (पृथक और मंत्रिस्तरीय श्रेणियां) के लिए परीक्षा का पहला चरण 15 दिसंबर, 2020 से शुरू होकर 18 दिसंबर तक चलेगा। इसके बाद सीईएन 01/2019 (एनटीपीसी श्रेणियां) की परीक्षा 28 दिसम्बर, 2020 से शुरू होकर संभवतः मार्च, 2021 तक चलेगी। सीईएन नंबर आरआरसी – 01/2019 (स्तर -1) के लिए तीसरी भर्ती परीक्षा संभवतः अप्रैल, 2020 से जून, 2021 के अंत तक आयोजित की जायेगी।

15 दिसंबर 2020 से शुरू होने वाले सीईएन – 03/2019 (पृथक और मंत्रिस्तरीय श्रेणियां) के लिए उम्मीदवारों को ईमेल और एसएमएस के माध्यम से व्यक्तिगत तौर पर और आरआरबी की आधिकारिक वेबसाइटों पर उपलब्ध कराए गए लिंक के जरिए परीक्षा केंद्र का शहर, तिथि और परीक्षा की पाली के बारे में सूचित किया जाएगा। ई-कॉल पत्र को डाउनलोड करने के लिए लिंक को, सभी आरआरबी की आधिकारिक वेबसाइटों पर परीक्षा की तारीख से 4 दिन पहले लाइव किया जाएगा। भर्ती के अगले चरणों के बारे में जानकारी नियत समय पर जारी की जायेगी।

आरआरबी ने कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए बड़े पैमाने पर परीक्षा आयोजित करने के लिए व्यापक तैयारी की है और इसके लिए सरकार द्वारा जारी एसओपी का पालन किया जायेगा। सामाजिक दूरी बनाए रखना, मास्क व सैनिटाइज़र का अनिवार्य उपयोग, पालियों की संख्या में कटौती करके प्रतिदिन केवल दो पालियों में परीक्षा आयोजित करना आदि सुनिश्चित किया गया है। आरआरबी द्वारा यह सुनिश्चित करने के प्रयास किए जा रहे हैं कि जहां तक ​​संभव हो उम्मीदवारों को उनके गृह राज्य में समायोजित किया जाए ताकि वे रात भर यात्रा करके अपने परीक्षा केंद्रों तक पहुंच सकें। महिला और पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों को उनके गृह राज्यों में समायोजित किया गया है। हालांकि, उम्मीदवारों के क्षेत्रवार विषम वितरण पर विचार किया जाए, तो  अंतर-राज्य आवागमन अपरिहार्य होंगे। रेलवे जहां भी आवश्यक है और संभव है, उम्मीदवारों की यात्रा आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए विशेष परीक्षा ट्रेनों का परिचालन करेगा। संबंधित राज्य सरकारों के मुख्य सचिवों से यह भी अनुरोध किया गया है कि आरआरबी को स्थानीय प्रशासन का सहयोग प्राप्त हो, ताकि सामाजिक दूरी बनाए रखना सुनिश्चित हो सके और सुरक्षित तरीके से सीबीटी का संचालन किया जा सके।

थर्मो गन का उपयोग करके प्रवेश द्वार पर तापमान के लिए उम्मीदवारों की जाँच की जाएगी। निर्धारित सीमा से अधिक तापमान वाले उम्मीदवारों को परीक्षा स्थल के अंदर जाने की अनुमति नहीं होगी। ऐसे उम्मीदवारों के पुनर्निर्धारण से सम्बंधित सूचना उनके पंजीकृत ईमेल और मोबाइल नंबर पर भी भेजी जाएगी। ऐसे उम्मीदवारों की फिर से निर्धारित परीक्षा की सटीक तारीख बाद में सूचित की जाएगी। उम्मीदवार को अपने मास्क का उपयोग करना चाहिए। उम्मीदवार को प्रवेश द्वार पर निर्धारित प्रारूप में कोविड -19 स्व-घोषणा प्रस्तुत करना होगा और ऐसा नहीं करने पर उसे परीक्षा स्थल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। मुख्य द्वार से परीक्षा-लैब तक, कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार भीड़ प्रबंधन की उचित व्यवस्था की जाएगी। प्रत्येक पाली के बाद और दूसरी पाली शुरू होने से पहले परीक्षा केंद्र को कीटाणुरहित (सैनीटाइज) किया जाएगा।

कोविड-19 के दौरान सीबीटी में शामिल उम्मीदवारों और अन्य कार्मिकों के स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए, सभी प्रासंगिक प्रोटोकॉल / दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाएगा। कोविड-19 के संबंध में केंद्र और संबंधित राज्य सरकारों द्वारा जारी किए गए नवीनतम निर्देशों, दिशानिर्देशों और आदेशों का अनुपालन भी सुनिश्चित किया जाएगा।

Article Tags:
· ·
Article Categories:
Travel & Tourism · Education · National · Social

Leave a Reply

%d bloggers like this: