Mar 7, 2021
129 Views
0 0

इस महिला दिवस पर पाईए वित्तीय आत्मनिर्भरता

Written by

8 मार्च को हर साल पूरी दुनिया में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। यह दिन हमें महिलाओं के रूप में सांस्कृतिक, सामाजिक और आर्थिक विकास में महिलाओं की सफलता और उनकी भूमिकाओं के साथ उनकी उपलब्धियों को सम्मानित करने का अवसर देता है। उन्हें शक्तिशाली बनाने के लिए इस साल का महिला दिवस उन महिलाओं को समर्पित है, जो ‘चुनौतियां स्वीकार करती हैं’। यह दिन उन महिलाओं का स्मरण करता है, जो समाज की कुप्रथाओं को चुनौती देती हैं, जो महिलाएं लैंगिक समानता को चुनौती देती हैं, जो महिलाएं वित्तीय आत्मनिर्भर और सुरक्षित बनती हैं, जो महिलाएं अपने डर को साहस से चुनौती देती हैं और जो महिलाएं अपने मार्ग में आने वाली सभी बाधाओं को पार कर आगे बढ़ जाती हैं।

आधुनिक महिला का जीवन, चाहे वह कामकाजी हो या अकेली, एक माँ हो या बेटी, हर मामले में बहुआयामी होता है। महिलाएं अनेक अन्य जिम्मेदारियां सम्हालती हैं, जिन्हें अक्सर नजरंदाज कर दिया जाता है। वह अपना कामकाजी जीवन सम्हालती है, घर के काम सम्हालती है और बच्चों एवं परिवार का ख्याल रखती है। एक प्रसन्न एवं सशक्त जीवन जीने के लिए महिलाएं आत्मविश्वास से चुनौतियां स्वीकार करती हैं। यह महिला दिवस पर समय है, जब महिलाओं को एक सुरक्षित जीवन के लिए आत्मविश्वास से वित्तीय आत्मनिर्भरता को अपनाना चाहिए।

विनीत कपाही, हेड ऑफ मार्केटिंग, अवीवा इंडिया महिलाओं को वित्तीय रूप से सुरक्षित बनने के कुछ तरीके बता रहे हैं।

अपने खर्च व उद्देश्यों की सूच बनाएं – ‘बुद्धिमान बनें’।

अपने व्यक्तिगत लक्ष्य निर्धारित करके और अपनी संपत्तियों एवं दायित्व की समीक्षा करके अपने वित्त का प्रबंधन करना चाहिए। आने वाले साल बेहतर स्थिति में होने के लिए एक बजट का बनाया जाना आवश्यक है और यह जानना जरूरी है कि पैसा कहां खर्च हो रहा है और कहां पर बचत की जा सकती है। वित्तीय रूप से सफल होने के लिए बजट का बनाया जाना सबसे जरूरी है और इस बात की पूरी खबर रखनी चाहिए कि खर्च कहां किया जाएगा और बचत कहां की जाएगी। उदाहरण के लिए नए घर या कार के लिए बचत या बच्चे की शिक्षा या छुट्टी मनाने के लिए खर्च।

वित्तीय नियोजन की कला सीखें – योजना बनाएं।

आज की तेजी से बढ़ती दुनिया में महिलाओं के लिए यह आवश्यक है कि वो सुरक्षित भविष्य के लिए वित्तीय नियोजन करें। घरेलू काम और परिवार की देखभाल की जिम्मेदारियों के साथ महिलाओं को काम करने के लिए ज्यादा वक्त नहीं मिलता, इसलिए हर साल उनकी बचत/निवेश कम होता है। उन्हें सम्माननीय, महत्वपूर्ण एवं सुरक्षित महसूस करने के लिए बीमा करवाना और निवेश करना जरूरी है। महिलाओं द्वारा अपने वित्त की अच्छी योजना बनाए जाने से परिवार की वित्तीय योजना ज्यादा मजबूत होगी और जीवन में महत्वपूर्ण उद्देश्य, जैसे घर खरीदने, बच्चों की उच्च शिक्षा की योजना बनाने आदि जैसे लक्ष्य पूरे करने में मदद मिलेगी। वित्तीय योजना महिलाओं द्वारा किसी पर निर्भर हुए बिना अपनी व्यक्तिगत और व्यवसायिक महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने के लिए भी जरूरी है।

केवल बचत न करें, बल्कि बुद्धिमानी से निवेश भी करें – निवेश करें।

निवेश के अनेक विकल्प उपलब्ध हैं। इसलिए व्यक्ति को अपने वेतन खाते में पैसा बेकार नहीं पड़ा रहने देना चाहिए। पैसे की बचत करना अच्छा है, लेकिन सबसे स्मार्ट चीज़ यह है कि निवेश के स्मार्ट विकल्पों द्वारा इस पैसे को बढ़ाया जाए। निवेश से बचत किया गया पैसा ज्यादा तेजी से बढ़ता है। प्रोफेशनल परामर्श के लिए रेगुलेटेड फाईनेंशल एडवाईज़र की मदद ली जा सकती है या एक पृथक बचत खाता खुलवाया जा सकता है, स्टॉक बाजार में निवेश किया जा सकता है या एक बीमा योजना में निवेश किया जा सकता है, जो मैच्योरिटी पर प्रीमियम का दोगुना रिटर्न वापस करे।

अतिरिक्त आय का निर्माण करें – अतिरिक्त आय पाएं।

वित्तीय समस्याएं खर्च करने की बजाय अपर्याप्त बचत के कारण उत्पन्न होती हैं। यदि व्यक्ति को खर्च पूरे करने में परेशानी आ रही है या उसका बजट सीमित है या फिर व्यक्तिगत खर्च पूरे नहीं हो रहे, तो आय के अतिरिक्त स्रोत का निर्माण करने की जरूरत है। इस मामले में या तो व्यक्ति को ज्यादा पैसा कमाने का तरीका तलाशना चाहिए या फिर ऐसा प्लान बनाना चाहिए, जिससे उसके वर्तमान खर्चों में कटौती हो। ज्यादा आय से ज्यादा वित्तीय स्थिरता मिलती है और प्राप्त की गई अतिरिक्त आय का इस्तेमाल कर्ज चुकाने, लोन की अवधि कम करने, रिटायरमेंट के लिए बचत करने या मासिक फाईनेंस को बढ़ाने में किया जा सकता है।

सही बीमा उत्पादों द्वारा अपने परिवार का भविष्य सुरक्षित करें – टर्म इंश्योरेंस कराएं।

जीवन अनिश्चित है, और विपत्ति उस समय आती है, जब आपको उसकी उम्मीद भी न हो। जीवन में वित्त की अनेक प्राथमिकताएं हो सकती हैं, लेकिन उन सबके बीच, आप अपने एवं अपने प्रियजनों के भविष्य को सुरक्षित करने के महत्व को नजरंदाज नहीं कर सकते। परिवार को कितने पैसे की जरूरत होगी, इसका आंकलन करें और सही बीमा उत्पादों द्वारा जीवन में अनिश्चित घटनाओं की तैयारी करें। टर्म इंश्योरेंस प्लान बहुत किफायती है, लेकिन फिर भी यह इंश्योर्ड एवं उसके परिवार को विस्तृत सुरक्षा प्रदान करता है। यह एक अत्यावश्यक वित्तीय बैकअप है, जो हर व्यक्ति के पास होना चाहिए। यदि आपने स्वास्थ्य बीमा करा रखा है, तब भी आप कवरेज बढ़ाने के बारे में सोच सकते हैं। इसके अलावा, चाईल्ड प्लान चुनकर आप अपने बच्चों के सपने पूरे करने, उनकी शिक्षा या विवाह की व्यवस्था कर सकते हैं।

एक इमरजेंसी फंड बनाएं – अनिश्चितता को चुनौती दें।

एक ठोस योजना का आवश्यक तत्व इमरजेंसी फंड है, जो अनपेक्षित रूप से आए बुरे दिनों में वित्त की कमी को पूरा करने में मदद करता है। मौजूदा आय, परिवार में सदस्यों की संख्या और एस्सेट्स के आधार पर एक छोटे इमरजेंसी फंड के साथ शुरुआत करें। पेचेक से बचत खाते में ऑटोमेटिक ट्रांसफर स्थापित करें। इमरजेंसी फंड इतना बड़ा होना चाहिए, जिससे कम से कम छः महीने तक मासिक खर्च चलाया जा सके और यह लिक्विड होना चाहिए।

महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए एक दिन पर्याप्त नहीं, लेकिन महिला दिवस हमें याद दिलाता है कि हम सभी महिलाओं को सशक्त बनाने की शुरुआत कहीं न कहीं से कर सकते हैं। निरंतर चुनौतियों का सामना कर रही यह दुनिया एक विकसित और सचेत दुनिया है, जो नई वास्तविकताओं का सामना करने और नई ऊँचाईयां छूने के लिए तैयार है। ‘चुनौतियां स्वीकार करें’ की थीम के साथ इस अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर, चलिए हम सभी मौजूदा स्थिति को चुनौती दे और ज्यादा मजबूती एवं और ज्यादा आत्मविश्वास प्राप्त करें।

Article Tags:
·
Article Categories:
Economic · Social

Leave a Reply

%d bloggers like this: