Jul 17, 2022
14 Views
0 0

मुख्यमंत्री ने गांधीनगर से 18 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों के लिए राज्यव्यापी मुफ्त एहतियाती खुराक का शुभारंभ किया

Written by

केंद्र सरकार ने ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत देश भर में 15 जुलाई से 75 दिनों के लिए 18 से 59 वर्ष के आयु वर्ग के नागरिकों को मुफ्त एहतियाती खुराक देने की पहल की है।

 

इस अभियान के एक भाग के रूप में गुजरात के मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल ने स्वास्थ्य मंत्री श्री रुशिकेश पटेल की उपस्थिति में गांधीनगर के सेक्टर-24 शहरी स्वास्थ्य केंद्र से 18 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों के लिए राज्यव्यापी मुफ्त एहतियाती खुराक का शुभारंभ किया।

 

18-59 वर्ष के आयु वर्ग के लाभार्थियों को कोविड -19 वैक्सीन की मुफ्त एहतियाती खुराक कोविद वैक्सीन अमृत महोत्सव के तहत सरकारी कोविड टीकाकरण केंद्रों से 15 जुलाई, 2022 से 75 दिनों के लिए यानी 30 सितंबर, 2022 तक दी जाएगी।

 

18 से 59 वर्ष के आयु वर्ग के नागरिक और जिन्होंने दूसरी खुराक के 6 महीने पूरे कर लिए हैं, वे इस एहतियाती खुराक के लिए पात्र होंगे।

 

गुजरात के सभी जिलों/निगमों में इस आयु वर्ग के लगभग 4 करोड़ लाभार्थी एहतियाती खुराक के लिए पात्र हैं।

 

इसके लिए राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने लगभग 3500 कोविड टीकाकरण केंद्रों पर 15 हजार से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों को तैनात किया है.

 

भारत सरकार राज्य सरकार को कोविशील्ड वैक्सीन की 3.50 करोड़ खुराक और कोवैक्सिन वैक्सीन की 50 लाख खुराक का अनुमान प्रदान करेगी।

 

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार “आजादी का अमृत महोत्सव” के तहत राज्य के सभी पात्र लाभार्थियों को मुफ्त टीका देकर गुजरात को 700 करोड़ से अधिक का उपहार देगी।

 

सभी पात्र नागरिकों को पहली और दूसरी खुराक की तरह ही सरकारी टीकाकरण केंद्रों के माध्यम से एहतियाती खुराक दी जाएगी। अगले 75 दिनों में अधिकतम लाभार्थी राज्य स्वास्थ्य प्रणाली के दायरे में आएंगे। केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इस टीकाकरण अभियान को पूरे देश में मिशन मोड में चलाने का निर्देश दिया है।

 

तदनुसार, राज्य सरकारों को सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के प्रमुख कार्यालय परिसरों, औद्योगिक घरानों, रेलवे स्टेशनों, अंतर-राज्यीय बस स्टेशनों और स्कूलों और कॉलेजों में विशेष कार्यस्थल टीकाकरण शिविर आयोजित करने के लिए निर्देशित किया गया है।

 

मुख्यमंत्री जी के मार्गदर्शन में राज्य के स्वास्थ्य विभाग भूपेंद्र पटेल आने वाले दिनों में इस संबंध में व्यापक कार्य योजना तैयार करेंगे।

 

गौरतलब है कि गुजरात में 14 जुलाई 2022 तक 4 करोड़ 92 लाख 27 हजार यानी 18 वर्ष से अधिक उम्र के 99.80 प्रतिशत लाभार्थियों को पहली खुराक दी जाती है जबकि 4 करोड़ 91 लाख 39 हजार लाभार्थियों को दूसरी खुराक दी जाती है और कुल मिलाकर 11 से अधिक लाभार्थियों को पहली खुराक दी जाती है. सभी आयु समूहों को मिलाकर करोड़ 20 लाख 56 हजार वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है।

इस अवसर पर राज्य मंत्री निमिषाबेन सुथार, गांधीनगर की उपमहापौर सहित पदाधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री मनोज अग्रवाल एवं वरिष्ठ अधिकारी, नगर आयुक्त इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ शामिल हुए.

Article Tags:
· ·
Article Categories:
Government

Leave a Reply